Sat. Jul 20th, 2024

Bar Council UP

संवाददाता कृष्णकांत पांडेय

Bar Council UP बलिया : हापुड़ जिले में अधिवक्ताओं पर पुलिस द्वारा बर्बरता पूर्वक लाठीचार्ज करने व फर्जी मुकदमा लादे जाने के विरोध में मंगलवार को बार कॉउंसिल आफ यूपी Bar Council UP के आह्वान पर बलिया के क्रिमिनल व सिविल बार के वकीलों ने सिविल कोर्ट परिसर में जोरदार प्रदर्शन करते हुए प्रदेश के मुख्य सचिव व पुलिस महानिदेशक पुतला दहन किया. इस दौरान वकीलों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी किया.

उप्र बार कॉउंसिल के तीन दिवसीय हड़ताल के आह्वान (Bar Council UP)

पर सिविल व क्रिमिनल बार के वकीलों ने मंगलवार को सिविल कोर्ट परिसर नारेबाजी करते हुए मुख्य सचिव व डीजीपी का पुतला दहन किया. इस मौके पर संयुक्त बार के वकीलों ने योगी सरकार के दोषी अफसरों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इस दौरान वकीलों ने मांग किया कि प्रदेश में एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू किया जाय.

कहा कि योगी सरकार के अफसर वर्तमान सरकार में बेलगाम हो चुके हैं

. आलम यह है कि वकीलों का उत्पीड़न पुरे प्रदेश में चल रहा है. हापुड़ प्रकरण में योगी सरकार के अफसरों के इशारे पर फर्जी मुकदमा लादा गया है. वकीलों ने मांग किया कि हापुड़ के अधिवक्ताओं के खिलाफ दर्ज मुकदमा वापस लिया जाय. इस प्रकरण में दोषी पुलिस अफसरों व पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाय. प्रदेश भर में अधिवक्ताओं के विरुद्ध पुलिस ने मनगढ़त झूठी कहानी बनाकर जो दर्ज किये है. उसे स्पंज किया जाय. वकीलों ने कहा कि प्रदेश सरकार तत्काल एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट पारित कर तुरन्त प्रदेश में लागू करे.

हापुड़ जिले के घायल अधिवक्ताओं को तत्काल मुआवजा दिया जाय। इस मौके पर सिविल बार के अध्यक्ष देवेंद्र दुबे, क्रिमिनल बार के प्रभारी अध्यक्ष/ वरिष्ठ उपाध्यक्ष शिवकुमार तिवारी, महासचिव अनिल कुमार मिश्र, कुबेर नाथ पाण्डेय, सिद्धनाथ राय, अभिषेक मिश्र, प्रदीप गुप्ता, विवेकानंद पाण्डेय, रणजीत सिंह, नवीन सिंह, अनिल सिंह, रोहित चौबे, राजबहादुर सिंह, अशोक वर्मा, श्री शंकर राम फौजदार, सत्यप्रकाश यादव, उमाशंकर तिवारी, ओंकार सिंह, सूरज तिवारी आदि मौजूद रहे.

जाने और खबर :-

थानाध्यक्ष द्वारा हिन्दू धर्म पर दिए गए बयान को लेकर कमेटी के अध्यक्ष ने दिया सफाई

One thought on “वकीलों ने मुख्य सचिव व डीजीपी का पुतला फूंका, लगाए सरकार विरोधी नारे”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *