Sat. Jul 20th, 2024

Uttar pradesh sonbhadra

Uttar Pradesh | Sonbhadra | कोल ब्लॉक की नीलामी को लेकर कांग्रेस की मनमोहन सरकार का तख्ता पलट कर दिया था तो वही उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जनपद में अवैध तरीके से कोयला के भंडारण अवैध कारोवार के खिलाफ योगी सरकार की शक्त कार्यवाही करने से अवैध खनन माफियाओ में हड़कंप की स्थिति है। जीरो टारलेन्स की बात करने वाली योगी सरकार पर धब्बा लगाने की कोशिश करने वाले काले कारोबारियों पर सरकार का हंटर चल रहा है।

इस अवैध कोयला कारोबार पर जनपद में दूसरी बड़ी कार्रवाई हुई है। जिससे कोल माफियाओ में हड़कम्प मच गया है। जिला प्रशासन की आज संयुक्त छापेमारी में एडीएम प्रशाशन, एसडीएम, खनिज विभाग की टिम मौके पर पहुंच कर 17 ट्रकों को सीज कर दिया और रेलवे की धनबाद मण्डल के सलईबनवा स्टेशन के पास लगभग बीस बीघे में लगभग 2000 टन अवैध कोयला भंडारण के लिए जांच के आदेश दिए गए हैं। ये भंडारण रेलवे और वन विभाग की जमीन पर किया गया था।

पकडे गए ट्रक

अवैध कोयला कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है। काले कारोबार पर रोक लगाने के लिए प्रशासन अवैध कारोबारियों पर कार्रवाई करने मूड में है। प्रशासन कुछ माह पहले शक्तिनगर के कृष्णशीला परियोजना के रेलवे साइडिंग पर जब्त 6 हजार करोड़ के रूपये का 10 मिलियन टन अवैध कोयला बरामद किया था। आज  अवैध रूप से कोयले में मिक्स करने के लिए ब्लैक स्टोन व जले कोयले का बुरादा लदे 17 ट्रकों और अवैध भण्डारण के अड्डे से जब्त किया गया सैकड़ो टन कोयला ।

कोयले का भण्डारण किस कम्पनी का है , ट्रैक पर कोयले में मिलावट के लिए पश्चिम बंगाल से लाए गए ब्लैक स्टोन व बुरादा किसका है प्रशासन के भय से कोई भी ट्रकों का दावा करने के लिए सामने नहीं आ रहा है। इसे लेकर विभाग अपने स्तर पर सरकारी प्रक्रिया के तहत कार्रवाई कर रहा है। फिलहाल अवैध 17 ट्रैकों को सीज करते हुए चोपन पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

Uttar Pradesh | Sonbhadra

Uttar Pradesh | Sonbhadra | ओबरा तहसील के सलईबनवा के जंगल में 17 ट्रक में 900 टन कोयला जब्त किया गया है सलईबनवा में स्टेशन के पास लगभग 20 बीघे वन व रेलवे भूमि पर भण्डारण कर लगभग 1100 टन कोयला जब्त किया गया।  जिसकी कीमत करीब दस करोड़ रुपये बताई जा रही है। इस अवैध कोयला कारोबार में कुछ लोगों को मौके से गिरफ्तार भी किया गया है। इसे लेकर एफआईआर दर्ज कर जिला खनन विभाग ने कागजी प्रक्रिया पूरी करने लिए अनुमति के लिए जिलाधिकारी के पास फाइल भेज दी है।

वही जिलाधिकारी ने बताया अवैध रूप से कोयला भण्डारण व चोरी पर खनन विभाग द्वारा लगातार छापामारी की जा रही है। कोयला तस्करों पर लगाम और सरकार की हो रही राजस्व क्षति पर रोक लगाने के उद्देश्य टास्क फोर्स भी इस अभियान में लगी हुई है। आज चोपन थाना क्षेत्र के सलाईबनवा के रेलवे की जमीन पर जो भी कोयला भंडारण किया गया है उसकी जॉच की जा रही है।

जाने और खबर :-

चंद्रयान-3 की चांद पर लैंडिंग |

One thought on “मिक्स करोड़ों के अवैध कोयले और ट्रक पर प्रशासन का चला डंडा , एफआईआर दर्ज कर 17 ट्रक सीज”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *