Fri. May 24th, 2024

Baba Ramdev Patanjali Business

Baba Ramdev Patanjali Business: बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड अपना नॉन-फूड बिजनेस बेचने की तैयारी कर रही है। इसमें टूथपेस्ट, तेल, साबुन और शैंपू बनाने का बिजनेस शामिल है। बाबा रामदेव की लिस्टेड कंपनी पतंजलि फूड्स लिमिटेड को इसे खरीदने का ऑफर मिला है। कंपनी ने बताया है कि उसे अपना नॉन-फूड बिजनेस पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड को बेचने के लिए एक पत्र मिला है। 

कंपनी के बोर्ड ने 26 अप्रैल को इस प्रस्ताव पर चर्चा की। पतंजलि आयुर्वेद की स्थापना बाबा रामदेव ने की थी। वह कंपनी के प्रमोटर हैं और आचार्य बालकृष्ण इसके प्रबंध निदेशक हैं। प्रमोटर ग्रुप के कुल बिजनेस में नॉन-फूड बिजनेस का हिस्सा 50 प्रतिशत से अधिक है। पतंजलि फूड्स लिमिटेड का कहना है कि उसने प्रस्ताव का मूल्यांकन करने के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है।

कैसे शुरू हुई पतंजलि कंपनी? (Baba Ramdev Patanjali Business Establishment)

पतंजलि आयुर्वेद (Baba Ramdev Patanjali Business) भारत में स्थित एक भारतीय बहुराष्ट्रीय समूह होल्डिंग कंपनी है। इसकी स्थापना 2006 में स्वामी रामदेव और बालकृष्ण ने संयुक्त रूप से की थी। कंपनी का कार्यालय दिल्ली में और मुख्यालय हरिद्वार में है। कंपनी सौंदर्य प्रसाधन, आयुर्वेदिक दवाएं, व्यक्तिगत देखभाल उत्पाद और खाद्य उत्पाद बनाती है। 

स्वामी रामदेव कंपनी का प्रतिनिधित्व करते हैं और रणनीतिक निर्णय लेते हैं। साल 2016 में पतंजलि भारत की सबसे तेजी से बढ़ती एफएमसीजी कंपनियों में से एक थी। वहीं, साल 2020 में इसकी लागत लगभग 3,000 रुपये थी।

पहले इस नाम से जानी जाती थी कंपनी 

खाद्य तेल कंपनी पतंजलि फूड्स लिमिटेड को पहले रोची सोया इंडस्ट्रीज के नाम से जाना जाता था। साल 2019 में इसे बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद (Baba Ramdev Patanjali Business) ने 4,350 करोड़ रुपये में खरीदा था। जून 2022 में कंपनी का नाम बदलकर पतंजलि फूड्स लिमिटेड कर दिया गया।

बाबा रामदेव की कंपनी ने ऐसे की ग्रोथ 

इस कंपनी ने मई 2021 में 60.03 करोड़ रुपये में पतंजलि बिस्कुट प्राइवेट लिमिटेड का अधिग्रहण कर लिया। इसके बाद, इसने जून 2021 में पतंजलि आयुर्वेद के नूडल्स और नाश्ता अनाज बिजनेस को 3.50 करोड़ रुपए में खरीद लिया। फिर मई 2022 में, पतंजलि फूड्स ने पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड (Baba Ramdev Patanjali Business) के किराना बिजनेस को 690 करोड़ रुपये में खरीद लिया था।

 सिर्फ तेल तक ही सीमित नहीं है पतंजलि का बिजनेस 

पतंजलि फूड्स लिमिटेड (Baba Ramdev Patanjali Business) देश की अग्रणी एफएमसीजी कंपनियों में से एक है। खाद्य तेलों के अलावा, कंपनी का बिजनेस खाद्य और एफएमसीजी उद्योगों के साथ-साथ विंड एनर्जी तक भी फैला हुआ है। इसमें पतंजलि, रुचि गोल्ड और न्यूटेला जैसे ब्रांड शामिल हैं।

इन बड़ी कंपनियों को दे रही है टक्कर 

पतंजलि आईटीसी, हिंदुस्तान लीवर और डाबर जैसी कंपनियों को कड़ी टक्कर दे रही है, जो दशकों से एमएमसीजी क्षेत्र में हैं। बाबा रामदेव की कंपनी (Baba Ramdev Patanjali Business) के उत्पादों में टूथपेस्ट, साबुन, आटा, पास्ता, कपड़े और फार्मास्यूटिकल्स शामिल हैं। कंपनी के अब कई शहरों में कारखाने हैं।

जाने और खबर :-

घरेलू महिलाएं, बढ़ाएं अपनी आत्मनिर्भरता: 3 से ज्यादा डिमांड वाले New Business Ideas

One thought on “Baba Ramdev Patanjali Business: आखिर क्यों बेचा जा रहा है बाबा रामदेव का बिजनेस, कौन खरीदेगा कंपनी?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *