Sat. May 18th, 2024

Ramgovind Chaudhary

संवाददाता कृष्णकांत पांडेय| बलिया। सपा के राष्ट्रीय सचिव और उत्तर प्रदेश के पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी Ramgovind Chaudhary ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में चौबीस का चुनाव समय पर हो या समय से पहले, इस चुनाव को आम जनता लड़ेगी और इस लड़ाई में भारतीय जनता पार्टी और उसकी सहयोगी पैसा पार्टियों का खाता भी नहीं खुलेगा

रामगोविंद चौधरी कथन (Ramgovind Chaudhary)

उन्होंने कहा है कि इसका संदेश घोसी की जनता ने उप चुनाव में दिया है। देश के अन्य क्षेत्रों में भी लोग वैसा ही जवाब देने के लिए तैयार खड़े हैं। बस चुनाव का एलान होने दीजिये।अपने स्थानीय जगदीश पुर स्थिति आवास पर पार्टी के विधानसभा क्षेत्र के जोन प्रभारियों को सम्बोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव, उत्तर प्रदेश के पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी (Ramgovind Chaudhary) ने कहा है कि घोसी में केवल भाजपा उम्मीदवार और पार्टी नहीं, अडानी, अम्बानी और ललित मोदी जैसों के लिए एजेंट के रूप में काम कर रही डबल इंजन की पूरी सरकार चुनाव लड़ रही थी। हुआ क्या ? बुरी तरह हार हुई उनकी।

प्रशासनिक गुंडई नहीं होती तो यह अंतर एक लाख से अधिक मतों का होता। उन्होंने कहा है कि इस बार घोसी में केवल भाजपा उम्मीदवार और उनकी पार्टी की हार नहीं हुई है, इस बार दलबदल की हार हुई है, जातिवाद की हार हुई है, नफरत की हार हुई है, पैसे की हार हुई है और उस प्रशासनिक गुंडई की भी हार हुई है जो पूरे चुनाव में उम्मीदवार और उसकी सत्ता पार्टी के कार्यकर्ता के रूप में काम कर रही थी।

घोसी की जीत पर …

सपा के राष्ट्रीय सचिव, उत्तर प्रदेश के पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहा है कि समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी के रूप घोसी में सुधाकर सिंह की जीत भी केवल सपा की जीत नहीं है, यह लोकतन्त्र की जीत है, संविधान की जीत है, सदभाव की जीत है, समाजवाद की जीत है और उन सभी राजनीतिक कार्यकर्ताताओं की जीत है जो भारतीय संविधान और लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं। उन्होंने कहा है कि यह जीत इंडिया गठवंधन में शामिल सभी दलों की जीत है। इस जीत के लिए घोसी की बहादुर जनता को जितनी भी बधाई दी जाए कम है

जाने और खबर :-

घोसी में सपा की जीत पर बजे पटाखे, जदयू नेता अवलेश सिंह ने कहा डबल इंजन फेल

One thought on “यूपी में जनता लड़ेगी चौबीस का लोकसभा चुनाव, नहीं खुलेगा भाजपा का खाता – रामगोविंद चौधरी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *